Error message

Notice: Undefined offset: 1 in counter_get_browser() (line 70 of /home/kbcnewsi/public_html/sites/all/modules/counter/counter.lib.inc).

बड़ी बथनाहा में 72 घंटों का हरिनाम संकीर्तन शुरू

महाशिवरात्री को लेकर जिले में जगह जगह 71 घंटो वाले हरिनाम संकितर््ान आयोजित कीये जा रहे है। पहला हरिनाम संकिर्तन मधेपुरा के बठैली में, आयोजित कीया जा रहा हैं जहां हरीनाम संर्कितन के साथ एक भव्य शिव मेला भी लगाया गया है। इस मेले में बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल हो रहे है। यह मेला अगामी 3 दिनो तक चलेगा। इधर शरीफगंज के निकट अवस्थित बड़ी बथनाहा में भी आज से 72 घटो का हरिनाम संकितर््ान प्रारंभ हो गया। इस हरिनाम संर्कितन में खान एंव भुतत्व मंत्री बिनोद सिंह विशेष रूप से मौजुद थे। मत्रंी श्री सिंह ने इस हरिनाम संर्कितन में शामिल हेाकर भगवान की विधिवत पुजा अर्चना की। इधर हवाइ अड्डा चैक पर ही आज 13 फरवरी की शाम से 72 घंटो का हरिनाम सकिंर्तन प्रारंभ हो गया। गौरतलब है की स्थानिय लेागो द्वरा महाशिवरात्री
के अवसर पर 72 घंटो का हरिनाम संर्कित्न आयोजित कीया जाता है। आज से प्रारंभ हुए हरिनाम संर्कितन में भी श्रद्धालुओ की भारी भीड़ मौजुद थी। महाशिवरात्री को लेकर हसनगंज के प्रसिद्ध भरीडीह शिव मंदिर में भी हरिनाम र्संिकर्तन के साथ एक भव्य और विशाल शिव मेले का आयोजन कीया गया है। भारीडीक का यह प्रसिद्ध यिावमंदिर एक सिद्ध तिर्थस्थान मानाजाता है इसिलये यहंा हजारो की संख्या में श्रद्धालु दुर दराज के गांव से भगवान यिाव की पुजा अर्चना के लिये पुहंच रहे है। उधर बरारी के गुरूबाजर में महायिावरात्री को लेकर आयोजित 9 दिवसीय महायिावपुराण कथा का लगाातर आयोजन जारी है। इस कथा के आज चैथे दिन भी वुंदावन से आइ कथावाचिका पुष्पांजली दीदी के मुखवुंद से कथा सुनने के लिये बडी स0 में श्रद्धालु गुरूबजार पुहंचे और बडी ही श्रद्धाभाव के साथ शिवपुराण कथा का श्रवण कीया।्र

Add new comment

Filtered HTML

  • Web page addresses and e-mail addresses turn into links automatically.
  • Allowed HTML tags: <a> <em> <strong> <cite> <blockquote> <code> <ul> <ol> <li> <dl> <dt> <dd>
  • Lines and paragraphs break automatically.

Plain text

  • No HTML tags allowed.
  • Web page addresses and e-mail addresses turn into links automatically.
  • Lines and paragraphs break automatically.
CAPTCHA
This question is for testing whether or not you are a human visitor and to prevent automated spam submissions.
1 + 0 =
Solve this simple math problem and enter the result. E.g. for 1+3, enter 4.